Chahat

शेर :चाहत


‘शेर’

“आस्मान कि चाहत को बताया नाही जाता !”
“दिल कि बातोको भुलाया नाही जाता !!“
“समझनेवालो को सिर्फ दुआ दे ओ खुदा !”
“पर मेरी चाहत को ना समझनेकि ‘सजा ‘…उसे मत दे खुदा !!”

-म.जा. 🙂 [पुनर्प्रकाशित]

Advertisements